July 18, 2019

–सिर्फ सीखो मत , अनुभव करो–

how to improve focus – 4 Tricks | ध्यान केंद्रित कैसे करे – 4 तरीक़े

how to improve focus – 4 Tricks | ध्यान केंद्रित कैसे करे – 4 तरीक़े


हेलो  दोस्तों आज हम  how to improve focus ध्यान कैसे केन्द्रित करे और यह  करना क्यों जरुरी है ये  देखेंगे और समझेँगे  |

तो ये article पूरा पढ़े और  इसको अच्छी तरह से समझे अगर फिर आपको कुछ नहीं समजता है तो निचे comment  कर सकते हो |

अगर आपको अपने जीवन में कुछ भी हासिल करना हो तो आपको तो आपको focus(फोकस) के के बारे में जानना बहोत जरुरी है  | focus(फोकस) वो चाबी है जो आपके लिए कामयाबी के दरवाजे को खोल सकती है |

how to improve focus | ध्यान कैसे केन्द्रित करे
how to improve focus | ध्यान कैसे केन्द्रित करे

what is focus | फोकस क्या है


तो  आपने न कभी ना कभी ये शब्द जरूर सुने होंगे की  do focus (ध्यानकेंद्रित करो) | तो ये  सबसे पहला सवाल है की ये है क्या जब इसको समझेंगे तभी तो इसको बेहतर कर  पाएंगे और इसे अच्छे से समज सकेंगे | तो इसे अच्छे  से समजने के लिए हम  एक  कहानी ले लेते है

 एक बार गुरु द्रोणाचार्य अपने शिष्यों की परीक्षा लेने की सोचते है और एक लकड़ी का पक्षी सामने वाले पेड़ पर रख देते है | उसके अगले दिन  अपने सारे शिष्यों को बुलाते है और उनको कहते है की आप सबको उस पक्षी की आँख पर निशाना लगाना है सबसे पहले भीम आता है और निशाना लगाने के लिए तैयार होता है तभी गुरु द्रोणाचार्य उससे पूछते है तुम्हे क्या दिख रहा है

 वो जवाब देता है गुरूजी बहोत कुछ दिख रहा है जैसे आसमान, पेड़, पेड़ की शाखाये तो गुरु द्रोणाचार्य एक एक करके सब से यही  पूछते है और सब यही जवाब देते है आखिर में द्रोणाचार्य  अर्जुन को यही सवाल करते है और अर्जुन कहते है मुझे पक्षी की आँख दिख रही है और  अर्जुन का निशाना सीधे पक्षी की आँख पर लगता है जबकि बाकि सब ये करने में विफल रहते है |

इससे हमे समज में आता है की अर्जुन का पूरा  शरीर व दिमान  उस पक्षी की आँख की तरफ केंद्रित था  इसलिए वह अचूक निशाना लगा पाया  जब की कोई दूसरा ये ना कर सका | तो focus(फोकस )  करना यानि किसी भी चीज़ की और अपनी शरीर व दिमाग की ऊर्जा को केंद्रित करना | अपना ध्यान  किसी एक ही चीज़ में लगा देना |

हमारा दिमाग बहोत चंचल है ये कभी स्धिर  नहीं रहता और जिसके कारन हम  समय पर किसी भी काम में ध्यान नहीं दे पाते |

क्योकि हमारे दिमाग को  information(जानकारी) लेना बहोत अच्छा  लगता है और वो ज्यादा से ज्यादा जानकारी लेते रहता है और इसके कारण हम अपने असली goal(लक्ष्य) से भटक   जाते है|

शायद अब आपको ये समज आ  गया होगा  की  focus(फोकस  ) क्या है |

where to do focus | कहा लक्ष्केन्द्रित करना  है 

 आप ज्यादा चीज़ो के  जानकारी ले तो सकते हो लेकिन   master(मास्टर)  किसी  एक ही चीज़ में हो  सकते  हो जिसके बारे में आपको ज्यादा जानकारी हो जिस चीज़ में आपका  interest(दिलचस्पी) हो |  जिस चीज़ में  आपकी  दिलचस्पी होगी उस काम में आपको सफलत मिलने की ज्यादा सम्भावना है |

और लोगो को यही  बात पता नहीं होती की फोकस कहा करना है  उनका  goal(लक्ष्य)  क्या है | जब तब यही पता नहीं की मंजिल कोनसी है तो आप किसी भी रस्ते पे बस चलते रहोगे | तो आपको पहले मंजिल तय  करनी होगी फिर आप  पोहचने का रास्ता भी  ढूंढ लेंगे   |

तो   goal(लक्ष्य) कैसे  तय करे | सबके गोल  एक नहीं हो सकते सबको अलग अलग चीजों में interest(दिलचस्पी) होती है | goal(लक्ष्य) तय करना    हो तो सबसे अच्छा तरीका है की आप देखो की कोनसा काम आपका    पसंदिता  है जो काम करके  आपको अछा  लगता है जिस काम को आप  दिनभर बिना किसी थकान  के कर सकते हो |

अब मानते है किसीको खाना पसंद है | उसे नयी जगहों पे जाना और वहाके  खाने का स्वाद लेना अच्छा  लगता है तो वो एक food blogger(फ़ूड ब्लॉगर) बन  सकता है|

           फ़ूड ब्लॉगर वो होता है जो खाने का स्वाद लेके उसके बारे में अपनी राय लोगो को बताये | आप इसके बारे में सर्च कर सकते ये बहोत  ही स्वादिष्ट व्यवसाय है

तो आप ये मत समझना  की ये दिनभर करना है | नहीं तो मोटे  हो जाओगे और मुझे गालिया दोगे फिर            ये बस एक उदहारण दिया है मैंने

या जैसे किसीको क्रिकेट खेलना अच्छा लगता है तो वह क्रिकेट क्लब ज्वाइन करके वहा  पे मेहनत  करके क्रिकेटर बन सकते है | और क्रिकेटर बनना इसीको  ही अपना goal(लक्ष्य) बना सकते हो |

 पर किसी भी  goal(लक्ष्य)  को पाने के लिए आपको मेहनत  करनीं होगी |


महान लोगो ने फोकस के ऊपर कही हुई कुछ बाते

मस्तिष्क की शक्तियां सूर्य की किरणों के समान हैं . जब वो केन्द्रित होती हैं ; चमक उठती हैं . – स्वामी विवेकानंद 

एक कारण कि हममें से इतने कम लोग वो हासिल कर पाते हैं जो हम सचमुच चाहते हैं कि हम कभी अपना ध्यान केंद्रित नहीं करते हम कभी अपनी शक्ति केंद्रित नहीं करते। अधिकतर लोग जीवन में इधर-उधर के काम करते रहते हैं , कभी भी किसी एक चीज में मास्टरी करने की नहीं सोचते  –  टोनी रोब्बिंस



सफल योद्धा औसत आदमी है जिसके पास लेज़र जैसा फोकस है   –   ब्रूस ली


मौत-एक विचलित मन वाले व्यक्ति को उसी तरह से बहा कर ले जाती है, जिस तरह से बाढ़ में एक गावं के (नींद में डूबे हुए) लोग बह जाते हैं  – गौतम बुद्ध 

            

                    ↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹👌👌👌👌👌↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹↹



how to improve focus | ध्यानकेंद्रित कैसे करे


 ये सबसे महत्वपूर्ण है की आपको पता हो की किसी चीज़ को कैसे बेहतर करना है तभी आप उन चीज़ो का इस्तेमाल करके उसे और अच्छा  कर सकते हो |

तो  फोकस इम्प्रूव  करने  के कई तरीके हे पर में आप को  कुछ ही तरीके बताऊंगा जो सही में  कारगर है  और ज्यादा बेहतर है|

१. एक जगह पे ध्यान केंद्रित करना

 दिवार के आगे एक जगह पे आराम से बैठे और उस दिवार पे एक छोटा बिंदु बना ले और इसकी तरफ ध्यान दे और इस क्रिया को आप  दिन में  १५ से २० मिनट के लिए करे |

या खुर्सी पे बैठे और अपनी हात  की एक ऊगली पे  ध्यान दे इसे भी आप दिन में १५ से  २० मिनट तक कर सकते हे |

२. समय तय करे

कोनसा काम  इतनी देर में करना है ये तय करले |  आप एक रजिस्टर ले सकते है  और जितना  भी दिन भर   में काम करना है वह इसमें लिखेंगे और कोनसा  काम इतने समय में ख़तम करना है ये तय करके उसे समय पे पूरा करेंगे | और अब जब आपको पता है की कोनसा काम कब करना है तो आप फोकस भी कर पाओगे

३.    meditation (ध्यान)


      ध्यान करना ये सबसे  बेहतरीन तरीका है  फोकस  बढ़ाने का |  सुबह  meditation (ध्यान) करना सबसे अच्छा माना जाता है  क्योकि सुबह शांति होती है

बस आपको किसी शांत जगह पे बैठना है और अपनी आखे बंद करके अपनी साँसो पे ध्यान केंद्रित  हैं  आपको साँस लेनी  है और छोड़नी है बस कितना आसान  है ना  |

 थोड़े दिन आपको परेशानी हो सकती पर जब आप ये रोज करने लग जाओ तो आप बहोत सरल तरीके से इसे कर पाओगे | और इसके वजह से आपको आपके जीवन में बहोत ज्यादा फायदा होगा आपको

४. अच्छी नींद   लेना

  फोकस न कर पाना इसका यह एक कारण है की हम न अच्छी  नींद नहीं लेते|
और उसके वजह से हमरा दिमाग बहोत थकान महसूस करता है और  focus(फोकस) नहीं कर पता

 जब आपको पढाई में या किसी काम में फोकस करना  हो तो मोबाइल या कोई भी चीज़ जिसे आपका फोकस नहीं बन पाता हो ऐसे चीज़ो से दूर रहे |

conclusion(निष्कर्ष)

मुझे लगता है की अब आपको focus(फोकस) के बारे में पूरी तरह जानकारी हो  गयी होगी | अगर इससे अलग आपको किसी टॉपिक के ऊपर जानना होगा तो निचे comment करे और मुझे मेरे ई-मेल पर कांटेक्ट करे। और इसी तरह के आर्टिकल्स को पढ़ने के लिए फॉलो करे