July 27, 2019

–सिर्फ सीखो मत , अनुभव करो–

2190 rule for success | सफलता के लिए 21 90 नियम

 2190 rule for success | सफलता के लिए 21 90 नियम


आज हम एक ऐसेrule (नियम) के बारे मेंजानेंगे जो आपको सफलतापाने के लिए बहोतज्यादा मदत करने वालाहै | आपको लेख कैसालगा निचे comment मेंजरूर बताएगा |

What is a  2190 rule | 21 90 नियम क्याहै 

 2190 rule for success | सफलता के लिए 21  90 नियम
 2190 rule for success | सफलता के लिए 21 90 नियम

मेरेबहोत से दोस्तों केपास गाड़ी होगी | कोईभी गाड़ी कार याबाइक कुछ भी होसकता है | और आपजब गाड़ी चलाना सीखरहे होंगे तो आपको किसीनेबताया होगा की ऐसे  gear(गियर)  डालनाहोता है।  इसजगह clutch(क्लच) होता है। कैसेगति बढ़ानी पड़ती है औरवो सबकुछ जो गाड़ी अच्छेसे चलाने के लिए हमेंकरना होगा। पर फिर भीआपने  गलतीकी होगी जब कीआपको पता था कीकैसे   gear(गियर)  डालनाहै कैसे स्पीड   बढ़ानी है और कहाब्रेक मारना है फिर भीआपने गलती की | आपकोपता था बाइक मेंपहला  gear(गियर)  आगेऔर बाकि सब gear(गियर)  पीछे  लगाने है फिर भीगलती हुई।  

पर कुछ दिनों बादजब आपको आदत होगयी आप अच्छे सिखगए | फिर तो अपने आप हीआपका हात गियर बदलताहै | आप बराबर जगहपे ब्रेक मारते हो |और कुछदिनों बाद अब आपगाड़ी नहीं चलाते हो।आपको ये पता भीनहीं की कोण गाड़ीचला  रहाहै।  आपबस ड्राइविंग सीट पे होतेहो। आपके हात औरपैरे अपने आप चलतेहै। आप कभी ऐसानहीं बोलते ये सोचते कीअब मुझे अपने  पैर को यहाँपे रखना है बल्किवो अपने आप हीहो जाता है। 
जब  पहलेकोई कुछ करता थातो आप कहते थेडिस्टर्ब मत करो।  लेकिन अब तो आपआराम से ड्राइविंग करतेहुए बात कर सकतेहै। कुछ खा सकतेहै पि सकते है।कार में गाना बदलसकते है। यहा तककी अब आप अपनीबाइक को एक हातसे भी चला लेतेहो। वही गाड़ी चलानेमें आपको दिख्खत होतीथी जो अब इतनीआसानी से चला लेतेहो
कैसे ??????
क्युकी आपको इसकी आदत हो चुकी है। हर काम करने में शुरवात में तकलीफ होती है याद रखना पड़ता है।  पर जब वो चीज़ आपकी  subconscious mind (अवचेतन मन) में चली जाती है फिर वो चीज़ आपको याद रखने की जरुरत नहीं होती।  
हर काम शुरू मेंकठिन होता है मुश्किललगता है | सतर्क होके काम करना पड़ताहै।  परजैसे ही आपको उसकी     आदतहो जाती है आपउस काम को बड़ीआसानी से कर सकतेहो।



 इसलिए कुछ अच्छी आदतेअपनाईये  शुरूमें मुश्किल होगी।  फिरभी करिये थोड़े दिन बादकठिनाई कम होगी औरथोड़े दिन कीजिये कठिनाईऔर कम होगी।  और फिर वो  आदत  आपके   subconscious mind (अवचेतन मन) में चली जाएँगी फिरआपको वो चीज़ बहोतज्यादा आसान लगेगी।
तो यही पे आताहै २१ दिन कानियम जैसा की मैंनेकहा की कोई भीकाम बार बार करतेहो तो उसकली आदतहो जाती है। तोहमारे दिमाग को किसी भीचीज़ की  habit(आदत)होने में २१ दिनका समय लगता है।  आपकहोगे की २१ दिनही क्यों क्युकी वैज्ञानिको ने और कईआध्यात्मिक लेखो में येकहा गया है कीकिसी भी चीज़ कीआदत डालनी हो या कोईभी आदत छोड़नी होतो उसमे २१ दिनका समय लगता है।जिसमे आपको वो चीज़लगातार २१ दिनों तकरोज करनी होती हैजिसकी आपको आदत डालनीहै।
अगरआपको कुछ हासिल करनाहो। कोई आदत छोड़नीहो या कोई बदलावकरना हो तो आपकोवो चीज़ २१ दिनकरनी होगी बिना चुके।  अगरकोई आदत छोड़नी हैतो २१ दिन तकबिलकुल मत करो कुछभी हो जाये औरफिर २२ वे दिनआपको जरुरत ही नहीं होगीकुछ करने की आपका   दिमागखुद ही सबकुछ करनेलगेगा।
इस   २१९०  नियम  काइस्तेमाल करके आप ज़िन्दगीमें कुछ भी हासिलकर सकते हो।  कोई भी बड़ाआदमी अगर किसी मक़ामपे है तो उसकीआदतों की वजह सेही है।  शायदकोई तुक्के से सफलता हासिलकर सकता है परवो शिखर पे नहींरह सकता | जिसकी आदते अच्छी होगीवही आदमी शिखर पेहोगा बड़े मकाम पेहोगा। और जिसे भीशिखर पे रहना होगाउसमें कोई क्रन्तिकारी आदतहोनी बहोत ज्यादा जरुरीहै। जिसमे क्रन्तिकारी आदत होगी वहीआदमी शिखर पे होगा। 
तो आपको चाहे कुछभी बनना हो परआप वही बनते हैजैसी आपकी आदते है।  अपनेआदतों के आधार पेही आप क्या होऔर क्या बनोगे येतय होता है |
तो आपको अच्छी आदतेअपनाना  बहोतजरुरी है

 2190 rule for success | सफलता के लिए 21  90 नियम
make an habit 

अगरआपने सुबह जल्दी उठनेकी आदत डाल लीतो आपको ज्यादा समयमिलेगा सोच ने कीलिए अच्छा वातावरण मिलेंगा |आप अपने बारेमें सोच सकते हो।  आपयोग करके अपना स्वास्थसुधार सकते  होऐसे ही कई आदतेहै जो आपने डाल  लीतो आप सफलता निच्छितरूप से पा लोगे। 
और जब आप कोईचीज़ ९० दिन तककरते हो तो वोआपकी  lifestyle(जीवनशैली)बन जाती है | फिरआप चहा कर भीउस आदत को बदलनहीं पाओगे। 
तो ये है २१९० नियम जो अगर आपनेअपना लिया तो आपकोसफलता प्राप्त करने से कोईनहीं रोक सकेगा |

मेरे साथ दोहराओ 

हा में ये कर सकता हु 

तो आपको ये लेखकैसा लगा इसके बारेमें हमे जरूर बतायेऔर आपके पास कोई  विषयहो  तोवो भी आप बतासकते है अपना कीमतीसुझाव comment में जरूर दे।और कोई भी सवालहो तो आप ईमेलकर सकते हो |