August 21, 2019

–सिर्फ सीखो मत , अनुभव करो–

gautam buddha in hindi | गौतम बुद्ध सुख के प्रकार

 gautam buddha in hindi | गौतम बुद्ध सुख के प्रकार 

 gautam buddha – आज में आपको गौतम बुद्ध से जुडी एक बहोत ही महत्वपूर्ण घटना के बारे में बताऊंगा जिससे आपको समझ में आ जायेगा की असली सुख क्या है।

 gautam buddha | गौतम बुद्ध सुख के प्रकार

                                                       

  Gautam buddha types of happiness in Hindi  | गौतम बुद्ध सुख के प्रकार 

गौतम बुद्ध इस दुनिया के सबसे बड़े ज्ञानी है जिन्होंने बुद्धि के उस स्तर को प्राप्त किया जो और कोई न कर सका। दुनिया में कई भगवान  है पर जो बुद्ध ने प्राप्त किया और दुनिया को जो दिया वो और किसीने नहीं। बुद्ध कोई भगवान नहीं बल्कि ये एक सुखद और आसान रास्ता है जीवन जीने का । गौतम बुद्ध ने दुनिया को जीवन को समझने का बहोत आसान व् सरल रास्ता बताया। और जो भी बुद्ध को समझ गया वो इनके रस्ते पे चलने से खुदको नहीं रोक सकता

बुद्ध ने दुनिया को जीवन के असली सुख से परिचित कराया। क्योकि बुद्ध को कई लोग एक धर्म या जाती समझते है पर जबकि ये बिलकुल गलत है पर फिर जो लोक बुद्ध को समझने की कोशिश करते है वो सब धर्म और जाति से ऊपर उठते है। और बुद्ध को अपना मार्गदर्शक समझके उनके रास्ते पे चलते है।

जितना बुद्ध ने जितना जीवन और इस दुनिया को समझा और  समझाया उतना  कोई  और न कर सका। बुद्ध के कई ग्रंध  है जिनमे उन्होंने दुनिया का मार्गदर्शन किया है। आजतक कोई ऐसा नहीं हुआ जो बुद्ध के बराबर कहलाये। धर्मगुरु और वैज्ञानिको का मानना है की बुद्ध ही भविष्य है।

आजभी सबसे ज्यादा खुदाई के दौरान प्रतिमाये निकलने का विश्व विक्रम बुद्ध के ही नाम है इससे समझ में आता है की बुद्ध का  सन्देश और उनके विचार दुनिया के हर प्रांत हर देश में फैला हुआ है। क्योकि बुद्ध धर्म इसा मसीह से ५०० साल पहले से पूरी दुनिया  में  फ़ैल चूका था तो सारे धर्म की बाते बुद्ध से ही ली गयी है ऐसा कई वैज्ञानिको का मानना है। जितना बुद्ध धर्म में बताया गया है वैसा और कही नहीं। अगर कोई चाहे भी तो पूरे  बुद्ध धर्म को एक जनम में नही जान सकता।

ऐसे तो कई बाते है बुद्ध की जो अगर में बताना चालू करू तो रुक नहीं पाउँगा और आप भी मन लगाके पढोगे मुझे पता है पर आज हम बुद्ध से जुडी एक घटना  के बारे में पढ़ेंगे जो बहोत ही अच्छी है और आपको जिंदगी में कही ना कही जरूर काम आएगी। तो बस पढ़ना नहीं है इस घटना को खुद के जीवन  से जोड़ना है और समझना है। 

                                      gautam buddha the guru of world

सुख और ख़ुशी  के प्रकार 

तो हर दिन की तरह गौतम बुद्ध अपनी साधना में बैठे थे और ध्यान कर रहे थे और जिंदगी को और ज्यादा जान रहे थे। तभी वह पे एक अनाथ व्यक्ति आये और बुद्ध के पास बैठ गए वो कुछ समय तक वैसे ही बैठे रहे और बुद्ध को देख रहे थे। जब बुद्ध ने आँखे खोली और उनसे बात करने लगे और तभी उस अनाथ व्यक्ति ने बुद्ध से बड़ी उत्साह से सवाल किया की कोई इंसान कैसे खुश रह सकता है। तो बुद्ध ने तत्काल उसे खुश के प्रकार बताये और उसका वर्णन भी किया

  • प्रथम सुख 

वो इंसान खुश होता है जो “सुख  सम्पति का मालिक होता है” जिसके पास बहोत अधिक सम्पति हो। जिस आदमी ने ईमानदारी से, सीधे तरीके से ,बडी उत्साह से, मेहनत से ,और व्यापार से जिसने धन कमाया है  वो ये  सब सोच कर खुश राहता है और सुख कि अनुभूत करता है ऐसे व्यक्ति को इस बात की ख़ुशी होती है की उसका धन कड़ी मेहनत का नतीजा है।

  • २ दूसरा सुख 

दूसरा सुख उस इंसान को होता है जिसके पास अपने सपने पुरे करने लायक धन हो। जो उसने भी ईमानदारी, भलेपना, मेहनत व् शक्ति से कमाया होता है। जिस धन का वो इस्तेमाल कर रहा होता है उसके सपने पुरे करने के लिए या कोई पुण्य करने के लिए। और वो अपने पुरे धन का उपयोग खुश रहने और खुश रखने के लिए करता है। और वो ये सोचकर खुश रहता है की में अपने धन के बल पर पुण्य कर रहा हु  ख़ुशी का अनुभव कर रहा हु। और इस विचार के साथ सुखी जीवन प्राप्त करता है

  • ३ तिसरा सुख 

तिसरा सुख जो बुद्ध ने बताया वो था किसीका “कर्ज ना होणे का सुख ” जो एक अच्छा व्यक्ति होता है उसपे किसीका कर्ज  नहीं होता। न किसीके पैसो का  ना किसीके सोच का कर्ज होता है और नहीं किसी अन्य प्रकार का कोई कर्ज होता है। उस व्यक्ति को इस बात का समाधान होता है की उसका किसिपे पे कोई कर्ज नहीं। और ये सोचकर वो खुश और सुख रहता है।

  • ४ चौथा सुख 

चौथा सुख बिलकुल सरल और सीधा है जो सबको आसानी से मिल सकता है। तो बुद्ध ने कहा चौथा सुख होता है निर्दोष होने का। जिस व्यक्ति ने दोष नहीं किया उसकी सोच उसकी मंशा और उसकी बोली अभी दोष नहीं करते वो हमेशा निर्दोष होते है ऐसा व्यक्ति सुख की अनुभूति लेता है और खुश रहता है

बुद्ध कोई इंसान न होकर एक सोच  और जिंदगी जीने का एक रास्ता है जिससे जो समझ गया वो जीवन को पूरी तरह से जी सकेगा। गौतम बुद्ध ने दुनिया पूरी तरह से समझाया हर पहलु पर उन्होंने लिखा है समझाया  है। और उसी में से मैंने आपको एक छोटा सा उनका किस्सा बताया आप मुझे कमेंट करके जरूर बताये आपकी क्या रे है गौतम बुद्ध के इस किस्से पर। आप मुझसे जुड़ने के लिए ईमेल करे जिस वजह से आप मुझसे और भी सरल ता से सवाल पूछ पाओगे