September 19, 2019

–सिर्फ सीखो मत , अनुभव करो–

Five Weekly Habits of Successful People in hindi | सफल लोगों की पांच साप्ताहिक आदतें

दोस्तोंमैंने आपको कई बारआदतों का महत्व समझायाहै और आदतों कीवजह से आपकी ज़िन्दगीक्या से क्या होजाएगी ये भी बतायाहै।   औरमुझे लगता हैं कीआपको रोज की कुछआदते जो आपके लिएकरना जरुरी है वो आपकरते होंगे। पर क्या आपकोपता है की कुछखास किस्म की आदते होतीहै जो आपको हप्तेमें एक बार जरूर  करनीचाहिए।
और ये आदते बहोतज्यादा शक्तिशाली है आपके जीवनमें बदलाव लाने के लिये।ये सफल लोगों कीछह साप्ताहिक आदतें किसी भी व्यक्तिके लिए खुफ़िआ हतियारकी तरह काम आएगीऔर जब आप इनआदतों को अपनाकर इनकाइस्तेमाल करोगे तो आप अपनीज़िन्दगी में बहोत तेजीसेआगे बढ़ोगे। और इस कारनमें आपको हक सेकह रहा हु कीआप भी ये आदतेजरुर अपनाये।

 सफल लोगों की पांच साप्ताहिक आदतें | five Weekly Habits of Successful People

 

  सफल लोगों की पांच साप्ताहिक आदतें | five Weekly Habits of Successful People

 

              सफल लोगों की पांच साप्ताहिक आदतें | five Weekly Habits of Successful People


. साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित करें |  Set weekly goals

साल में हमारेपास ५२ हप्ते होतेहै तो इसका मतलबहुआ की हमारे पास५२ संभावनाएँ ( )   हैकी हम अपने लक्ष्यको परखे और उन्हेंहर हप्ते निर्धारित कर सके। साप्ताहिकलक्ष्य तय करके आपअपने सपनो को अच्छेसे समझ सकते होऔर उन सपनो कोपूरा करने के लिएनियोजन भी कर सकतेहो

 

साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित करें |  Set weekly goals

                                       साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित करें |  Set weekly goals


साप्ताहिकलक्ष्य कैसे निर्धारित करें

तो इसका बहोतही  आसान तरीका हैंजैसे आपको कोई भीलक्ष्य है तो उसकोआपको टुकड़ो में बाट लेनाहै और उन्हें हरहप्ते पुरे करते जानाहै। अगर आपका लक्ष्यये है की आपको महीने में किलोवजन घटाना है तो आपको  हरहप्ते के हिसाब से किलो वजन घटानाहोगा और अब जबआपको हर हप्ते किलो वजन काम करनाहै तो आपको येज्यादा मुश्किल भी नहीं लगेगा।
ज्यादातरक्या होता है कीहम अपने लक्ष्य निर्धारितकरते है और फिरउनपर बहोत म्हणत भीकरते है पर कभीकभी हमें कोई समस्या जाती है औरहम कुछ समय केलिए अपने लक्ष्य सेदूर हो जाते हैऔर फिर हम वापसउस काम को करनेकी कोशिश करते है तोया तो हम उसेटालने लगते है याहमारा मैं नहीं करता।


पर जब आप येआदत अपना लोगे तोआप दूर भी होगये अपने लक्ष सेऔर फिर वापस आओगेतो आपको पता होगाकी ये काम आपकोइसी हप्ते में खतम करनाहै तो आप औरअच्छे से और जोशसे उस काम कोपूरा करोगे।

2. कुछ समय के लिए प्रतिबिंबित करें | reflect for some time 

ये एक बहोत जरुरी चीज़ है जो हमें करनी चाहिए पर आज कल कोई इसपे ध्यान नहीं देता। हमें खुदके लिए कुछ समय निकालना चाहिए जिसमे हम खुद के बारे में सोच सके बस एकांत में बैठकर मोबाइल और लैपटॉप बंद करके खुदके बारे में सोचना चाहिए। खुदका ही अभ्यास करना चाहिए ये सोचना चाहिए की आप अभी कहा ? है क्या कर रहे ? है और कहा जाना चाहते है ?

कुछ समय के लिए प्रतिबिंबित करें | reflect for some time
             कुछ समय के लिए प्रतिबिंबित करें | reflect for some time 

अपने लक्ष के बारे में सोचिये और उसके लिये क्या करना पड़ेगा वो भी खुदसे ऐसे सवाल पूछिए जिस वजह से आप अस्वस्थ हो जाओ जैसे की क्या आप आप अपनी योग्यता के अनुसार काम कर रहे हो क्या आप अपने ताकत के अनुसार मेहनत कर रहे हो या कही आप अपना समय तो बर्बाद नहीं कर रहे हो क्या आपको कोई खुदकी आदत बदलने की जरुरत है ऐसे सवाल पूछो खुदसे। 

तो जो मैंने बताया  वो आपको रोज नहीं करना है बल्कि आपको ये हप्ते में एक बार ही करना है क्योकि अगर ये आप रोज करोगे तो आपको काम करने का समय नहीं मिलेगा तो एक दिन सोचो और फिर पूरा हप्ता बस मेहनत करो।

3. अपने खर्चों पर नज़र रखें | track your expenses

  

अपने खर्चों पर नज़र रखें | track your expenses
                           अपने खर्चों पर नज़र रखें | track your expenses

ये एक बहोत अच्छी आदत है और महत्वपूर्ण भी इस आदत से आप अपने खर्चो पे नियत्रण करख सकते हो। अगर आप दिन भर का बजट बनाके चलते हो तो फिर अआप्को इस आदत की कोई जरुरत नहीं पर अगर आप मेरे जैसे इंसान हो जो दिन भर हिसाब नहीं रखता और मुझे ये करना अच्छा भी नहीं लगता तो आप मेरी तरह अपना बजट के बारे में हर हप्ते पड़ताल कर सकते हो।

 आप अपने बैंक अकाउंट पे नज़र रकलह सकते हो की कहा से पैसे आ रहे है और कहा जा रहे है कही पैसे बर्बाद तो नहीं हो रहे किसी फालतू चीज़ पे और फिर आप अपने पैसे बचा भी सकते हो और अच्छे से नियंत्रण भी रख सकते हो।

4. आत्म सुखदायक अनुष्ठान | self-soothing ritual  

ये मेरा पसंदिता काम हैं या यु कहिये आदत है।  अगर आप खुदपे काम करते हो तो आपको इस भागदौड़ से थकान हो जाती है ये सबको होता है। और इन सबसे तनाव होना भी आम बात है तो इसके लिए आपको हर हप्ते में एक घंटा निकलना चाहिए आराम के लिए अपने दिमाग को शांत रखने के लिए और आराम करने के लिए कई तरीके है जैसे की आप मसाज ले सकते हो , चम्पी कर सकते हो ,योग और व्यायाम भी कर सकते हो।

ये इसलिए क्योकि हम अपना पूरा तनाव अपने दिमाग और शरीर में जमा करके रखते है और इन तरीको से आप अपने दिमाग और शरीर को आराम दिला सकते हो

आत्म सुखदायक अनुष्ठान | self-soothing ritual
                                                            आत्म सुखदायक अनुष्ठान | self-soothing ritual  

5. ध्यान का विस्तार | meditation extra long  

में हमेशा कहता हु की आपको हर रोज ध्यान करना चाहिए लेकिन बहोत से लोग १० मिनट भी अच्छे से ध्यान नहीं कर पाते और इसी वजह से आपको हप्ते में एक बार थोड़ी ज्यादा देर तक ध्यान करने की कोशिश करनी चाहिए जब आप सचमे ये करने लग जाओ तो आपको एक अलग अनुभव होगा। इससे आपको अपने रोज के ध्यान में भी फायदा होगा तो आपको इतनी शांति की अनुभूति होगी जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते।

और ध्यान की वजह से आपके अंदर सयंम भी बढ़ेगा।  अगर आपको ध्यान कैसे करते है और ध्यान के क्या फायदे है ये जानना है तो यहाँ  क्लिक  करे

ध्यान का विस्तार | meditation extra long
                          ध्यान का विस्तार | meditation extra long

और एक खास चीज़ में आपको मेरे तरफ से अत्तिरिक्त बताना चाहता हु जो मुझे बहोत ज्यादा लाभ पोहचाती है। आपको हप्ते में एक थोड़ा समय प्रकृति में बिताना चाहिए क्योकि प्रकृत्ति हमें समजाति भी है और हमें समजती भी है।

तो आपको ये आर्टिकल कैसा लगा मुझे जरूर बताये और आपको इसके आलावा और कुछ जानकारी हो तो  हमारे साथ जरूर बाटे। आप हमसे ईमेल के जरिये जुड़ सकते है। और अपना सुझाव दे सकते है। ध्यानवाद